प्यार, काला जादू या वशीकरण | 2 डरावनी कहानियाँ | Vashikaran Story

5/5 - (1 vote)

प्रिय पाठकों, हमें उम्मीद है कि आपको हमारी यह कहानी (प्यार, काला जादू या वशीकरण | डरावनी कहानियाँ | Vashikaran Story) बहुत पसंद आएगी। ऐसी ही और भी कहानियां पढ़ने के लिए हमारे साथ Dantakatha.com पर बने रहे। धन्यवाद

Reading Time : 5 Min. (Approx.)

प्यार, काला जादू या वशीकरण का परिचय 

गुरुदयाल को घर के मैंन गेट की चौखट के छोटे से छेद में घुसी एक पन्नी मिल गई जिसको वो निकाल कर भगत के पास ले आया और भगत ने जब उसको सबके सामने खोला तो उसमें अलका के सूट का कपड़ा, सिन्दूर, काले तिल, एक ताबीज़, हनी की टीशर्ट का एक बहुत छोटा कपड़ा और एक शैतानी चेहरे का चित्र बना हुआ था, भगत ने ये सब देखा और कुछ देर अपनी माला लेकर ध्यान लगाया फिर उसने ये सब हमें समझाना शुरू किया!

फिर क्या हुआ “प्यार, काला जादू या वशीकरण” पूरी कहानी पढ़कर जाने…

अध्यापक की काली नज़र

अध्यापक | Teacherहम सभी ने अपने जीवन में ‘वशीकरण’ शब्द कही न कही सुना है।आज की हमारी कहानी गाज़ियाबाद में रहने वाले रोमिल के चाचाजी के परिवार की आपबीती है।

मेरा नाम रोमिल है, मैं गाज़ियाबाद में रहता हूँ और ये सच्ची घटना मेरे पड़ोस में रहने वाले मेरे सगे चाचाजी के परिवार की है!

हम सिख समुदाय से हैं, 2016 में हमारे पड़ोस में हमारे चाचाजी का परिवार रहता था, जिसमें माँ, बाप और उनके तीन बच्चे उनके साथ रहते थे, सबसे बड़ा लड़का जिसका नाम ‘गुरुदयाल’ था वो 24 साल का था उसके बाद उसकी बहन 20 साल की थी उसका नाम ‘अलका’ था और फिर उनका सबसे छोटा बेटा 18 साल का था जिसका नाम ‘हनी’ था, बड़ा लड़का प्राइवेट जॉब करता था बाकि दोनों छोटे बच्चे पढ़ते थे!

बेटी ग्रेजुएशन कर रही थी और सबसे छोटा बेटा 12वी में था, उनके सामने एक और परिवार रहता था जिसमें उनका एक 28 साल का बेटा था जिसका नाम अमन था, वो अलका को रोज़ उसके घर पढ़ाने के लिए आता था, दोनों परिवारों की काफी बनती थी, अमन की ‘अलका’ पर गन्दी नज़र थी और वो उससे पढ़ना नहीं चाहती थी ये बात अलका हमें अकेले में बताया करती थी मगर घरवालों को ये बात वो कभी बता नहीं सकी!

तंत्र विद्या से लड़की पर किया वशीकरण

तंत्र विद्या | Tantra vidhyaएक दिन सुबह 5 बजे ही हमारे घर में शोर मच गया कि अलका घर पर नहीं है और सभी जगह ढूंढने के बाद भी वो नहीं मिल रही है, थोड़ी देर बाद पता चला कि अमन भी घर से गायब है

तो मुझे पूरा यकीन हो गया कि ये अमन का ही काम है मगर ये समझ नहीं आ रहा था कि अलका इसके लिए कैसे राज़ी हो गई वो तो अमन की परछाई भी नहीं देखना चाहती थी, पूरा दिन दोनों के परिवार और साथ में हमारे परिवार ने उन दोनों को खूब ढूंढा लेकिन उनका कोई पता नहीं चला, दोनों के फ़ोन भी बंद आ रहे थे जिससे हमारी चिंता बढ़ती जा रही थी और रात को हारकर हमारे चाचाजी ने पुलिस में अमन अलका को ले गया है ऐसी शिकायत दर्ज़ करवा दी!

दो दिन गुजर गए मगर अलका और अमन का कुछ पता नहीं चल सका, हमारे और चाचाजी के परिवार ने पंडित, मौलवी और भी कई लोगों से पूछा मगर कोई सही से जानकारी नहीं दे पाया, किसी ने कहा अलका मर गई है तो कोई कहने लगा अलका और अमन अब कभी नहीं आएंगे!

फिर एक दिन एक भगत को घर बुला कर अलका के बारे में पूछा गया तो उसने पहले तो अलका का कमरा देखा और उसके बारे में कई सवाल किए और कहा कि अलका पर वशीकरण करके उसको ले जाया गया है, या तो वो अगले तीन दिनों में आ जाएगी या अगर उसपर वशीकरण लगातार होता रहा तो फिर वो कभी नहीं लौटेगी!

जब वो भगत ये सब बता रहा था तब सबसे छोटा बेटा हनी बीच में कई बार हंस पड़ा जिससे उस भगत को गुस्सा भी आया मगर बस इतना कह कर वो भगत हमारे चाचाजी के घर से चला गया!

वशीकरण के आगे परिवार पस्त

वशीकरण | vashi karanअलगे दिन पास वाले थाने से फ़ोन आया और हमें आने को कहा, हमारा और अमन का परिवार भगत को लेकर वहाँ पहुँचे मगर हमने हनी को घर ही छोड़ दिया!

थाने में अलका और अमन दोनों बैठे थे और अलका अपने घरवालों के बुलाने के बाद भी उनके पास नहीं आ रही थी और कह रही थी मुझे अमन के साथ ही रहना है

फिर अलका के पिताजी ने अलका को रोकर, हाथ जोड़ कर और अपने परिवार का वास्ता देकर मनाना चाहा मगर अलका का चेहरा पथरा गया था और उसमें जैसे कोई भावना ही नहीं बची थी

इसलिय पूरे परिवार के पैर पटकने के बाद भी उसने पुलिस वालों से कहा कि मैं अमन के साथ रहना चाहती हूँ और मुझे मेरे घरवालों से खतरा है इसलिय मैं अमन के साथ जा रही हूँ!

अमन और अलका दोनों बालिग थे इसलिय पुलिस भी मजबूर थी और फिर पुलिस ने अलका और अमन को जाने दिया और साथ में अलका और अमन के परिवार से कहा कि इन दोनों की तरफ से अगर कोई शिकायत आप दोनों परिवारों के खिलाफ मिलती है तो आपको मुश्किल हो जाएगी इसलिय इनको अपनी ज़िन्दगी जीने दीजिये, इतना सुनकर हमारा और चाचाजी का परिवार घर आ गया!

भयानक दृश्ये से रूह कांपी

भयानक दृश्ये | Bhayanak drishyaघर आये तो देखा कि हनी ज़मीन पर सारे कपडे उतर कर लेटा है उसके एक तरफ एक कैंची पड़ी है और दूसरी तरफ उसके लम्बे ‘केश’ (बाल) कटे पड़े हैं,

मैंने उसके सीने पर सर रखकर देखा और गुरुदयाल भैय्या ने भी उसकी नब्ज़ देखी दोनों रुकी हुई थी, हनी मर चुका था, ये देखकर हम सबने रोना शुरू कर दिया, हनी के मम्मी पापा का तो रोकर बुरा हाल था, वो बेचारे लड़की की ज़िद के आगे थाने से अभी हार कर आये थे और अब बेटा भी खो बैठे थे!

जब हम थाने गए तो ‘भगत’ को भी साथ ले गए थे तो वो भी हमारे साथ ही घर आ गया था, उसने देखा और अपने बैग से एक भभूत जल्दी से हनी को चटाई तो वो अगले ही पल उठकर बैठ गया और ज़ोर ज़ोर से सर हिलाकर खेलने लगा!

हनी बार बार कह रहा था मुझे वापस क्यों बुलाया जल्दी बताओ मुझे वापस क्यों बुलाया, मैं इसको लेकर जाऊँगी, इसको लेकर जाऊँगी, भगत ने पूजा की समाग्री मंगाकर जल्दी से पूजा शुरू कर दी और बार-बार पूछता रहा बता तू कौन है? लड़के की क्या गलती है? इसको छोड़ने का क्या लेगी?

ऐसा चलते हुए रात में 9 से 1 बज गया फिर इतनी मुश्किलों के बाद जाकर वो ‘शैतानी चीज़’ बोली मुझे दो बोतल दारू और एक किलो लड्डू अगर कल शाम 6 बजे तक नहीं मिले तो मैं इस लड़के को अपने साथ ले जाऊँगी और कोई ताकत मुझे नहीं रोक पाएगी!

भगत ने कहा मैं तुझे वचन देता हूँ मैं तुझे ये दोनों चीज़ें कल शाम 6 बजे तक जरुर दे दूँगा मगर तू भी मुझे वचन दे कि तू इसके शरीर को हमेशा के लिए छोड़ देगी, बोल वचन दे? उधर से उस शैतानी चीज़ ने भी कहा मैं वचन देती हूँ और वचन पर रहूँगी और तुम लोग भी अपने वचन पर रहना मुझे मेरा भोग कल मिल जाना चाहिए और इतना कह कर वो चीज़ हनी के सर से चली गई!

भगत ने दिखाए वशीकरण के ज़िंदा सबूत

jinda saboot
अलगे दिन भगत ने तय समय से पहले आकर उसका भोग तैयार कराया और उसको हनी के सर बुला कर हनी के सरपर से 7 बार घुमाकर, वो सभी वस्तुएं बड़े बेटे गुरुदयाल के साथ जाकर एक पास के शामशान में पहुँचा दी!

भगत घर आकर कहने लगा कि मुझे ऐसा लग रहा है जैसे आपके घर में भी किसी ने कुछ किया हुआ है और ऐसा कहकर भगत पूरे घर में सबको लेकर घूमने लगा और ढूंढने लगा!

गुरुदयाल को घर के मैंन गेट की चौखट के छोटे से छेद में घुसी एक पन्नी में लिपटी पुड़िया मिल गई जिसको वो निकाल कर भगत के पास ले आया और भगत ने जब उस पुड़िया को सबके सामने खोला तो उसके अलका के सूट का कपड़ा, सिन्दूर, काले तिल, एक ताबीज़, हनी की टीशर्ट का एक बहुत छोटा कपड़ा और एक शैतानी चेहरे का चित्र बना हुआ था, भगत ने ये सब देखा और कुछ देर अपनी माला लेकर ध्यान लगाया फिर उसने ये सब हमें समझाना शुरू किया!

भगत ने कहा अलका और हनी पर वशीकरण किया गया है, अमन ने किसी मौलवी से अलका को पाने के लिए और उससे शादी करने के लिए ये सब करवाया है, अलका अमन को बिलकुल पसंद नहीं करती थी मगर अमन अलका को किसी भी कीमत पर पाना चाहता था और हनी को इस बात की भनक लग गई थी

और वो ये बात घर पर बताने वाला था इसलिय उसने हनी पर भी किसी मौलवी से हनी की जान लेने के लिए ‘वशीकरण’ और ‘तांत्रिक क्रिया’ कराई जिससे इसकी मौत हो जाए और अलका पर ‘वशीकरण’ करके उसको ले जाने की अमन की योजना सफल हो जाए!

वशीकरण का ज़ख़्म बना नासूर

नासूर | Nasoorभगत ने अंत में कहा कि मैंने आपके लड़के हनी को तो ‘वशीकरण’ से अब बचा लिया है और अब वो शक्ति हनी पर कभी हमला भी नहीं करेंगी मगर आपकी बेटी अलका अब मुश्किल ही वापस आएगी

क्यूंकि अब वो अमन के पास है और वो उसको रोज़ खाने में मिलाकर शादी होने तक कुछ ना कुछ टोटका करके देता रहेगा जिससे उसका वशीकरण टूटने ना पाए और शादी के बाद अलका मजबूर हो जाएगी वो आना भी चाहे नहीं आ पाएगी!

इस घटना को घटे आज 7 साल से ज्यादा हो गए हैं मगर ना तो अलका अमन आये ना उनकी कोई खबर, हाँ ये बस पता चला था इस घटना के 1 महीने बाद दोनों ने शादी कर ली और वो अब उत्तराखंड में कहीं रहते हैं!

 

 

 

वशीकरण:
वशीकरण जो कराये उससे वो धन, संपत्ति और मन चाहे इन्सान को पाए,
परन्तु जब मिले ऐसे कर्मो का फल तो कोई वशीकरण काम ना आए!

 

नोट: अपने डरावने सच्चे किस्से हमें बताएं, पैसा और नाम कमाएं!

Click Here!

डरावनी कहानियाँ | Daravani Kahaniyan

प्रिय पाठकों, हमें उम्मीद है कि आपको हमारी यह कहानी (प्यार, काला जादू या वशीकरण | डरावनी कहानियाँ | Vashikaran Story) और इसके जैसी कहानियां जैसे वशीकरण की कहानी (Vashikaran ki Kahani), काला जादू की कहानी (Kala Jaadu ki Kahani), डायन की कहानी (Daayan ki Kahani), छलावा की कहानी (Chhalawa ki Kahani), भूत की कहानी (Bhoot ki Kahani), प्रेत की कहानी (Pret ki Kahani), जिन्न की कहानी (Jinn ki Kahani), पिशाचिनी की कहानी (Pishachini ki Kahani), चुड़ैल की कहानी (Chudail ki Kahani), भूतनी की कहानी (Bhootni ki Kahani) आदि पसंद आ रही होंगी। 

 Warning: Dantakatha.com की सभी कहानियां Copyrighted है! इनको Copy करना Copyright Law का उलंघन मन जायेगा!

ऐसी और भी कहानियां जैसे Hindi Horror Story, Real Horror Story In Hindi, Real Ghost Story In Hindi पढ़ने के लिए आप हमारे साथ पर बने रहिये। 

साथ ही आप भी अपने ऐसे अनुभवों को जो की Creepy, Horror, Ghost, Scary, Scoopy, Haunted, Paranormal हों उनको हमारे साथ साझा करके नाम और पैसा कमा सकते है। 

 

Leave a Comment

Earn money

Recent Posts